सन्ता-बन्ता, पंजाबी का मास्टर

पंजाबी का मास्टर

पंजाबी का मास्टर जीतो की कॉपी देखकर बोला, “अपना मम्मा ठीक करो।”

जीतो छुट्टी के बाद अपने प्रेमी बन्ता से पूछा, “मेरे मम्मे ठीक नहीं हैं क्या?”

बन्ता- सुंदर हैं, बहुत सुन्दर हैं, पर तुमने ऐसा क्यों पूछा ?

जीतो- आज मास्टर कह रहा था अपना मम्मा ठीक करो।

बन्ता- वो तो बहनचोद पागल है, कल मुझे कहता अपने टट्टे को गोल करो !

***

सन्ता-बन्ता

सन्ता हाथ में थैला लटकाए बाजार से आ रहा था कि रास्ते में बन्ता मिल गया।

दोनों दोस्त थे तो रुक गये, एक दूसरे का हाल चाल पूछा।

तभी बन्ता की नज़र थैले पर पड़ी, उसने पूछा- सन्ता, क्या खरीद कर लाया?

सन्ता ने कहा- अच्छा चल, तू ही बता इसमें क्या है, और कितने हैं। अगर सही बता दिया तो बारह के बारह केले तुझे दे दूँगा।

बन्ता काफ़ी सोच कर- यार, पता नहीं !

Comments

Scroll To Top