सेक्स का जादुई बटन

r_cheda 2005-08-17 Comments

प्रेषक – राहुल छेड़ा

कई लोगों ने यह जानना चाहा है कि संभोग के पूर्व क्या किया जाना बेहतर हो सकता है! तो प्रस्तुत है सेक्स के जादुई आनंद का बटन – भगशिश्निका

अन्य नाम- शिश्निका, भगनासा, भग ! अंग्रेजी में clitoris, clit !

यह महिला के लिए सेक्स के जादुई आनंद का बटन है। भगशिश्निका मूलतः पुरुष के शिश्न की ही तरह है लेकिन आकार में काफी छोटी होती है। यदि इसे सही तरीके से सहलाया जाता है तो यह महिला को अत्यधिक आनंद व उत्तेजना प्रदान करती है। महिला के शरीर में भगशिश्निका ही ऐसी इकलौती इन्द्रिय है जिसका एकमात्र कार्य सेक्स-आनंद है। यह लगभग एक सेमी. लंबी होती है तथा योनि द्वार के ऊपर होती है।

शिश्न की ही तरह, भगशिश्निका की भी अग्र-त्वचा (foreskin) और एक दंड (shaft) भी होता है। लेकिन भगशिश्निका को सहलाने के कई तरीके होते हैं जो कि हर महिलाओं में अलग-अलग होते हैं। इसके लिए आपको स्वयं तलाशना होगा कि कौन सा तरीका आपकी महिला-साथी के लिये सबसे बेहतर हो सकता है। सबसे सही और शीघ्रता वाला तरीका तो यही है कि उसे कहें कि वह स्वयं अपने भगशिश्निका को सहला कर दिखाए, फिर आप उसके तरीके की नकल कर लें। कई महिलाएँ तो भगशिश्निका को सहला कर ही हस्तमैथुन की क्रिया को पूरा करतीं हैं। इसी दौरान आपको देखना होगा कैसे वह परम आनंद की ओर जाती है।

लेकिन कई महिलाएं इस प्रकार से हस्तमैथुन नहीं करतीं, तो कई महिलाएँ आपके सामने इस क्रिया को करने से हिचकिचा सकतीं हैं। इन परिस्थितियों में उसकी उत्तेजना के बारे में जानने के लिये आपको कई प्रयोग करने होंगे। इसके लिए आपको उसके भगशिश्निका को विभिन्न तरीकों से सहलाना होगा

यहाँ यह ध्यान यह रखें कि आप सीधे उसके भगशिश्निका तक न पहुंचें। हमेशा लैंगिक उत्तेजना की शुरुआत उसके शरीर से खिलवाड़ (foreplay) द्वारा करके उसे थोड़ी मीठी तरह से सताएँ। इसके बाद जब उसके भगशिश्निका के पास पहुंचें, तो उसके चारों ओर के क्षेत्र की मालिश करें या मसलें। यह क्रिया उसके भगशिश्निका में पर्याप्त मात्रा में रक्त भर देगी (शिश्न की तरह)। इसके पश्चात भगशिश्निका सीधे तरीके से खिलवाड़ के लिये तैयार होगी।

अभ्यास 1: भगशिश्निका के चारों ओर खिलवाड़

उसके भगशिश्निका के चारों ओर अंगमर्दन (Massage) करें: मसलन जंघा, उदर (पेट), कूल्हे। अंगमर्दन की यह क्रिया करते हुए आप शनैः-शनैः भगशिश्निका के निकट जाएँ। अंगमर्दन द्वारा भगशिश्निका के चारों ओर एक घेरा बनाएँ लेकिन भगशिश्निका को छुएँ नहीं। इस क्रिया को कुछ मिनटों तक दोहराते रहें। अब जब आप उसके भगशिश्निका तक पहुँचे तो अपनी एक उँगली के सिरे का उपयोग करें। उँगली द्वारा भगशिश्निका को काफी हल्के से वृत्ताकार घेरे में रगड़ें, फिर ऊपर-नीचे की दिशा अपनाएँ, फिर बाएँ व दाएँ की दिशा के अनुसार उँगली से सहलाएँ. यह सब इसपर निर्भर करता है कि उँगली की किस हरक़त को महिला अधिक प्राथमिकता देती है। क्योंकि हर महिला व हर भगशिश्निका अलग प्रवृत्ति की होती है। लेकिन सामान्य तौर पर पहली क्रिया काफी हल्के स्पर्श या छुअन के रुप में होनी चाहिए।

अभ्यास 2: भगशिश्निका से खिलवाड़

जब आप निश्चिन्त हो गए हों कि वह तैयार हो गई है तो आप अपनी उँगली के अग्रभाग को उसके भगशिश्निका पर ले जाएँ। यह तब अधिक सरल होगा जब उसके पाँव फैले हों। अब उसके भगशिश्निका को काफी हल्के तरीके से सहलाना शुरू करें। सबसे पहले गोलाई में सहलाएँ, फिर अन्य दिशाओं में भी प्रयत्न करें। साथ ही उससे पूछें कि वह किस स्थिति को अधिक पसंद कर रही है

इनके अतिरिक्त सबसे अच्छा मार्ग है कि उसके भगशिश्निका को उस तरह सहलाया जाए जिस तरीके से वह हस्तमैथुन करती है। इसके लिए उससे पूछें या उसे करके दिखाने को कहें। यदि वह कोई प्रस्ताव या सलाह देती है तो उसे स्वीकार करें। यहाँ पर यह अवश्य ध्यान रखें, जब भी आप उसके भगशिश्निका के समीप जाएँ तो अपने नाखून काट कर रखें या काफी छोटे रखें। भगशिश्निका की कोमलता के कारण लंबे और तीखे नाखून छिलने या कटने का कारण बन सकते हैं। इतना कुछ करने के बाद भी यदि आप प्रत्युत्तर नहीं पा रहे हैं तो समझें कि आप निश्चित तौर पर उसके भगशिश्निका को गलत तरीके से सहला रहे हैं (यह न भूले कि कभी कभी जो चीज किसी व्यक्ति के लिये सही होती है वही दूसरे के लिये गलत भी हो सकती है)।

यहाँ यह भी जानने योग्य है कि आप यदि गलत कर रहें हैं तो भी वह आपसे नहीं कहेगी। अतः आपको ही अपनी शैली में उससे पूछना पड़ेगा कि किस प्रकार से सहलाने पर उसे आनंद की प्राप्ति अधिक होती है। यदि एक बार आपने सही तरीका पा लिया तो उसे आप बेहतरीन सेक्स आनंद का लाभ दे सकते हैं और उसकी उत्तेजना को शिखर तक पहुंचा सकते हैं।

Comments

Scroll To Top